बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव की सेक्स सीडी का दावा, पूर्वोत्तर BJP ईकाई ने दर्ज कराई ये FIR

0
25
BJP filed FIR against claim sex CD Ram Madhav
BJP filed FIR against claim sex CD Ram Madhav
Download Our Android App Online Hindi News

10 फरवरी को The News Joint नाम के एक वेबसाइट ने बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव और पूर्वोत्तर मामलों के प्रभारी राम माधव की एक खबर विवादित प्रकाशित की थी। उस ख़बर के मुताबिक, राम माधव पिछले हफ्ते दीमापुर के एक होटल में दो लड़कियों के साथ थे।

इस बात की भनक जब नेशनल सोशलिस्ट कौंसिल ऑफ नागालैंड (NSCN)के कार्यकर्ताओं को लगी तो उन्होंने होटल के कमरे में पहुंचकर राम माधव को आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ लिया।

इसके बाद NSCN के कार्यकर्ताओं ने राम माधव को धमकी देकर अपने सामने ही उन दोनों लड़कियों के साथ सेक्स करने को कहा। NSCN के कार्यकर्ताओं ने इस पूरे क्रिया को अपने कैमरे में रिकार्ड भी किया।

खबर के मुताबिक NSCN ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि वो नहीं चाहते की राज्य में चुनाव हो। उन्होंने मांग की है कि या तो चुनाव रद्द किए जाएं वरना राम माधव की सेक्स वीडियो की पब्लिक के लिए जारी कर देंगे।

The News Joint के इस खबर को बीजेपी नेता राम माधव ने फर्जी बताया है। The News Joint के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी की नागालैंड इकाई की ओर से दीमापुर के पूर्वी पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है। राम माधव की ओर से क़ानूनी कार्रवाई किए जाने के बाद ये वेबसाइट ही बंद हो गई है। यही नहीं वेबसाइट का फेसबुक पेज भी गायब हो गया है।

BJP filed FIR against claim sex CD Ram Madhav
BJP filed FIR against claim sex CD Ram Madhav

राम माधव और न्यूज वेबसाइट के इस विवाद पर पत्रकार नितिन ठाकुर ने अपने फेसबुक वॉल पर लिखा है कि ”राम माधव के बारे में जो कुछ फैला वो उनके नहीं बल्कि उनके बहाने पूरी चुनावी प्रक्रिया के खिलाफ था। राम चाहे जिस विचारधारा से ताल्लुक रखते हों मगर चुनाव विरोधियों के लिए वो बस एक ऐसा हथियार हैं जिनके बहाने चुनाव रोका जा सकता है।

कहा गया कि उन्हें नागालैंड के एक होटल में दो लड़कियों के साथ संबंध बनाते रिकॉर्ड कर लिया गया था। रिकॉर्ड करनेवाले बीजेपी को चुनाव टालने के लिए कह रहे हैं और धमकी भी दे रहे हैं कि यदि ऐसा नहीं हुआ तो वीडियो क्लिप रिलीज़ कर देंगे।

अव्वल तो अब पार्टी ने खबर को ही नकार दिया है। खबर देनेवाली वेबसाइट पर ताला पड़ चुका है। दूसरी बात यदि ऐसा है भी तो क्या चुनाव विरोधियों को लताड़ने के बजाय अपने वैचारिक विरोधी के पीछे पड़ना ज़्यादा बेहतर है?

अगर राम होटल में किसी के साथ थे और इसे आप उनका चारित्रिक दोष मानते हैं तो भी क्या लोकतंत्र के लिए ज़रूरी चुनाव की इस प्रक्रिया को अक्षुण्ण रखना हमारी प्राथमिकता में नहीं होना चाहिए?

BJP filed FIR against claim sex CD Ram Madhav
BJP filed FIR against claim sex CD Ram Madhav

समय ऐसा है जब अपने विरोधी और विरोध की वजह को विवेक से चुनना होगा। मारो-मारो के शोर में किसी पर भी नहीं पिल पड़ना चाहिए। खबर अब वेबसाइट की भी लेनी चाहिए।

मीडिया की तथाकथित मुख्यधारा को हटाकर उसकी जगह लेने की चाहत में कोई कुछ भी किए चला जा रहा है। अगर वेबसाइट ने पत्रकारिता के उद्देश्य के अलावा किसी भी और वजह से खबर प्रकाशित की है तो कड़ी से कड़ी सज़ा मिलनी चाहिए।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here