PM मोदी कर्नाटक में ‘सरकार’ गिरने से बचा रहे हैं, उनको ‘पुल’ गिरने का कोई फर्क नहीं पड़ता !

0
1605
Social Media reacted on Varanasi flyover collapse
Social Media reacted on Varanasi flyover collapse
Download Our Android App Online Hindi News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मंगलवार शाम निर्माणाधान पुल की बीम गिरने से 18 लोगों की मौत हो गई और तकरीबन 50 लोग घायल हो गए।

इस हादसे पर जब पूरा देश दुख व्यक्त कर रहा था तो ठीक उसी वक्त दिल्ली में बीजेपी की संसदीय दल की बैठक हो रही थी। यह बैठक कर्नाटक में सरकार के गठन को लेकर हो रही थी।

जिस वक्त पीएम मोदी को अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचकर पीड़ितों का हालचाल लेना चाहिए था उस वक्त वो कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर फंसे पेंच पर विचार विमर्श कर रहे थे। यह सच है कि कर्नाटक चुनाव में बीजेपी को बड़ी कामयाबी मिली है।

राज्य में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। लेकिन क्या यह उचित है कि जिस वक्त आपके (बीजेपी) शासन वाले सूबे में पुल गिरने से कई घरों में मातम पसरा हो उस वक्त आपके कार्यालयों में कर्नाटक की कामयाबी का जश्न मनाया जा रहा हो?

सोशल मीडिया पर लोगों ने इसे बीजेपी की असंवेदनशील हरकत बताया और कड़ा ऐतराज़ जताया। जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष मोहित कुमार पांडेय ने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा, “वो (बीजेपी) सरकार गिरने से बचा रहे हैं। उनको पुल गिरने से कोई फर्क नहीं पड़ता”?

वीजेंद्र सिंह नाम के ट्विटर यूज़र ने लिखा, “तुम जीत का जश्न मनालो, हम बेबसी से दबे मर रहे हैं, हंसलो जयकारे खूब लगालो, हम तो दुखों में जी रहे हैं। शायद तेरी जीत हमारी जिन्दगी से बड़ी हो गई है तभी तो लाश हमारे आगन में पडी है”।

ग़ौरतलब है कि यूपी में बीजेपी की सरकार है और इस हादसे की वजह सरकार और प्रशासनिक की लापरवाही बताई जा रही है। हालांकि, यूपी सरकार ने जांच के आदेश दे दिए हैं और इस मामले में अब तक 4 अधिकारी सस्पेंड किए जा चुके हैं। पुल का निर्माण करने वाली कंपनी के खिलाफ ग़ैर इरादतन हत्या का मामला भी दर्ज किया गया है।

Source: boltaup.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here